Friday, April 5, 2013

परिरुप और विकास परिवर्तनों पर नियंत्रण



अंतरराष्ट्रीय मानक आईएसओ 9001:2008 में गुणवत्ता प्रबंध प्रणाली के लिए परिरुप और विकास परिवर्तनों पर नियंत्रण किस प्रकार रखा जाना चाहिये?

अंतरराष्ट्रीय मानक आईएसओ 9001:2008 में गुणवत्ता प्रबंध प्रणाली के लिए परिरुप और विकास परिवर्तनों पर नियंत्रण अपेक्षाये मानक के पैरा 7.3.7 में वर्णित हैं. वर्णित अपेक्षाओं के अनुसार परिरुप और विकास परिवर्तनों की पहचान की जानी जरुरी है और उनके अभिलेख रखे जाएँ. वर्णित अपेक्षाओं के अनुसार परिरुप और विकास परिवर्तनों का पुनरीक्षण, सत्यापन और वैधीकरण, जैसा उपयुक्त हो, किया जाए और कार्यावयन से पूर्व अनुमोदन किया जाए.

परिरुप और विकास पुनरीक्षण में पहले से सुपुर्द किए गए संघटक हिस्सों और उत्पाद पर परिवर्तनों के पराभव का मूल्यांकन शामिल हो. परिरुप और विकास परिवर्तनिन के पुनरीक्षण के परिणामों और कोई आवश्यक कार्रवाइयों के अभिलेख रखे जाएँ.