Tuesday, February 28, 2017

#09 - आईएसओ 9001:2015 गुणवत्ता प्रबंध प्रणाली जागरूकता - आयोजना (नियोजन)


#09 - आईएसओ 9001:2015 गुणवत्ता प्रबंध प्रणाली जागरूकता

आयोजना (नियोजन)

(6.1) जोखिमों और अवसरों को संबोधित करने की कार्रवाई


विचार करें - निर्धारित बाहरी और आतंरिक मुद्दे (जो संस्था और उसके प्रसंग से सम्बंधित हों) और निर्धारित इच्छुक दलों की अपेक्षाएं. इस सम्बन्ध में खंड 4.1 और 4.2 का सन्दर्भ लें.

निर्धारित करें - जोखिमों और अवसरों को (जिन्हें संबोधित करना आवश्यक है ताकि गुणवत्ता प्रबंध प्रणाली संस्था के चाहे परिणामों को प्राप्त कर सके, चाहे गए प्रभावों को बढ़ा सके, अनचाहे प्रभावों को रोक/कम कर सकें और सुधार प्राप्त कर सकें.

आयोजना करें - (1) जोखिमों और अवसरों को संबोधित करने की कार्रवाईयाँ, (2) संस्था की गुणवत्ता प्रबंध प्रणाली प्रक्रियाओं को आयोजना की गई कार्रवाईयों में एकीकृत करने और कार्यान्वित करने के लिए विधियां/तरीकें, (3) आयोजना की गई कार्रवाईयों के प्रभावीकरण का मूल्यांकन करने के लिए विधियां/तरीके.

सुनिश्चित करें - की गई कार्रवाईयाँ (निर्धारित जोखिमों और अवसरों को संबोधित करने के लिए) उत्पाद/सेवा अनुपालन के संभावित प्रभाव के अनुरूप अवश्य हों.

स्पष्टीकरण
(1) जोखिम संबोधन के विकल्प भिन्न हो सकते हैं, जैसे जोखिमों से बचना, जोखिम को अवसर में बदल देना, जोखिम स्रोत को समाप्त कर देना, संभावना या परिणामों को बदल देना, जोखिम साझा करना, सूचित निर्णय द्वारा जोखिम को बरकरार रखना, आदि.
(2) अवसर कुछ अच्छा करने की और जा सकते हैं, जैसे - नई पद्धतियों को अपनाना, नए उत्पाद/सेवाओं को प्रारम्भ करना/परिचय कराना, नए बाजार में प्रवेश, नए ग्राहक/उपयोगकर्ताओं को संबोधित करना, साझेदारी बनाना, नई तकनीक का प्रयोग, अन्य चाहे गए और व्यवहार्य सम्भावनाओं से संस्था या ग्राहकों की आवश्यकताओं को संबोधित करना.

(6.2) गुणवत्ता लक्ष्य और उन्हें पाने की आयोजना

संस्थापित करें - गुणवत्ता प्रबंध प्रणाली के लिए चाहे गरे प्रासंगिक कार्यों, स्टारों और निर्धारित प्रक्रियाओं पर गुणवत्ता लक्ष्य

सुनिश्चित करें - गुणवत्ता लक्ष्य गुणवत्ता नीति के संगत हो, मापनीय हो, लागू अपेक्षाओं पर विचार करते हों, उत्पाद/सेवा अनुपालन के प्रति प्रासंगिक हों, ग्राहक संतुष्टि बढ़ोतरी के प्रति प्रासंगिक हों.

संस्थापित गुणवत्ता लक्ष्यों को पाने के लिए निर्धारित करें - (1) तरीकें, कार्यविधियाँ और प्रक्रियाएं, (2) संसाधन आवश्यकताएं, (3) उत्तरदायी कार्मिक, (4) पूरा करने के लिए समय सीमा (लक्ष्य), (5) मूल्यांकन विधियाँ/कार्यविधियाँ.

सम्प्रेषित करें - गुणवत्ता लक्ष्य (प्रासंगिक दलों को)

निगरानी करें - गुणवत्ता लक्ष्य

अद्यतन करें - गुणवत्ता लक्ष्य, जैसा उपयुक्त हो.

दस्तावेज जानकारी संपोषित करें - गुणवत्ता लक्ष्यों पर

(6.3) परिवर्तनों की आयोजना

विचार करें - (1) परिवर्तनों का उद्देश्य, (2) परिवर्तन के संभावित परिणाम, (3) गुणवत्ता प्रबंध प्रणाली अखण्डता, (4) संसाधन उपलब्धता, (5) उत्तरदायित्वों और प्राधिकारों का आवंटन/पुनः आवंटन.

पूरा करें - एक सुनियोजित तरीके से परिवर्तन (खंड 4.4 का सन्दर्भ लें).

- केशव राम सिंघल

आपको यह लेख कैसा लगा, कृपया अपनी टिप्पणी से अवगत कराएं. धन्यवाद.

आईएसओ 9001:2015 गुणवत्ता प्रबंध प्रणाली जागरूकता से संबंधित लेखों का उद्देश्य आईएसओ 9001:2015 गुणवत्ता प्रबंध प्रणाली के सम्बन्ध में जागरूकता फैलाना है. इन लेखों को आईएसओ 9001:2015 गुणवत्ता प्रबंध प्रणाली मानक के एक विकल्प के रूप में इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए. संस्था में गुणवत्ता प्रबंध प्रणाली कार्यान्वित करने के लिए आईएसओ 9001:2015 गुणवत्ता प्रबंध प्रणाली मानक का उपयोग करना चाहिए, जिसे आप अंतरराष्ट्रीय मानक संस्था 'आईएसओ' से या उसके राष्ट्रीय सदस्य संस्था (भारत में 'भारतीय मानक ब्यूरो') से प्राप्त कर सकते हैं.

शब्दावली के लिए क्लिक करें.




No comments:

Post a Comment