Sunday, June 26, 2011

'आईएसओ 9001 : 2008 गुणवत्ता प्रबंध प्रणाली' मानक का विकास किन गुणवत्ता प्रबंध सिद्धांतों को ध्यान में रखकर किया गया था?


अंतर्राष्ट्रीय मानक आईएसओ 9000 :2000, गुणवत्ता प्रबंध प्रणालियाँ - मूल सिद्धांत (आधारभूत तत्व) और शब्दावली में (व संशोधित मानक आईएसओ 9000 :2005 में भी) आठ गुणवत्ता प्रबंध सिद्धांतों का वर्णन किया गया है. आईएसओ 9001 : 2000 का विकास इन्ही आठ गुणवत्ता सिंद्धांतों को ध्यान में रखकर किया गया था व आईएसओ 9001 : 2008 मानक आईएसओ 9001 : 2000 मानक का ही संशोधित रूप है. ये आठ गुणवत्ता प्रबंध सिद्धांत निम्न हैं -
(१) ग्राहक ध्यान केन्द्रित (Customer focus)
(२) नेतृत्व (Leadership)
(३) व्यक्तियों की भागीदारी (Involvement of people)
(४) प्रक्रिया सोच (Process approach)
(५) प्रबंध की प्रणाली सोच (System approach to management)
(६) लगातार सुधार (Continual improvement)
(७) निर्णय लेने में तथ्यात्मक सोच (Factual approach to decision making)
(८) पारस्परिक लाभकारी वितरक सम्बन्ध (Mutual beneficial supplier relationship)

आईएसओ 9001 : 2008 मानक उपर्युक्त आठ गुणवत्ता प्रबंध सिंद्धांतों पर आधारित है और इसका उद्देश्य संस्था में एक ऐसी गुणवत्ता प्रबंध प्रणाली संस्थापित और विकसित करना है, जो उपर्युक्त आठ गुणवत्ता प्रबंध सिंद्धांतों को उपयोग में लाकर ग्राहक अपेक्षाओं (customer requirements ) से आगे बढ़कर ग्राहक संतुष्टि (customer satisfaction ) का उन्नयन करे.

इस लघु लेख में दी गयी जानकारी आपको कैसी लगी? कृपया अपनी प्रतिक्रिया से अवगत करायें.

शुभकामनाओं सहित,

केशव राम सिंघल

हिंदी में आईएसओ 9001 गुणवत्ता प्रबंध प्रणाली पर जानकारी देने वाला पहला ब्लॉग .....

No comments:

Post a Comment